आइसोटीन गोल्ड (आइसोन्यूरॉन और आइसोटीन प्लस आई ड्रॉप्स)

आइसोटीन गोल्ड (Isotine Gold) आँखों के लिए उपयोगी आयुर्वेदिक दवाओं का एक पैकेज है। इस में आइसोटीन प्लस आई ड्रॉप और आइसोन्यूरॉन कैप्सूल होते है। आँखों के लिए यह एक आयुर्वेदिक टॉनिक है जो आँखों की रोशनी बढ़ाता है और नेत्र रोगों से बचाता है। यह आँखों की थकान को दूर करता है और आँखों के तनाव को कम करता है।

आँखों का चश्मा उतारने के लिए इसका प्रयोग किया  जाता है। इसका उपयोग कर कई लोगो को लाभ हुआ है और इससे अनेक व्यक्तियों के चश्मो का नंबर कम हुआ है।

इस के इलावा यह मोतियाबिंद (cataract) की भी एक अच्छी दवाई है। अपरिपक्व मोतियाबिंद में यह हितकारी है और रौशनी बढ़ाने में मदद करता है। मोतियाबिंद को आगे बढ़ने से रोकता है।

इसके अतिरिक्त यह अन्य नेत्र रोगों के इलाज करने के लिए भी व्यवहार में लाया जाता है।  यह कंप्यूटर विजन सिंड्रोम, रंग दृष्टिहीनता (Colour Blindness), रेटिनाइटिस पिगमेंटोसा (Retinitis Pigmentosa), ग्लूकोमा  (Glaucoma) और मधुमेह संबंधी रेटिनोपैथी (Diabetic Retinopathy) आदि रोगों के इलाज के लिए बहुत उपयोगी और फायदेमंद हैं।

आइसोटीन गोल्ड पैक

आइसोटीन गोल्ड पैक में दो प्रकार की दवाओं है।

  1. आइसोटीन प्लस आई ड्रॉप
  2. आइसोन्यूरॉन कैप्सूल

आइसोटीन प्लस आई ड्राप के घटक द्रव्य

आइसोटीन प्लस आई ड्राप (Isotine Plus Eye Drop) के घटक द्रव्यों की सूचि निम्न लिखित है:

घटक द्रव्य मात्रा (%)
पलाश (Butea Monosperma) 0.3%
आमला या आंवला (Emblica Officinalis) 0.3%
बहेड़ा या बिभीतकी (Terminalia Bellerica) 0.3%
चन्दन (Santalum Album) 0.3%
अपामार्ग (Achyranthes Aspera) 0.3%
पुनर्नवा (Boerhavia Diffusa) 0.3%
Holostemm Adakodien-Sehultes 0.3%
टंकण भस्म (Tankan Bhasma) 2.0%
फिटकिरी (Alum) 0.4%
यशद भस्म (Jasad Bhasma) 0.06%
तुथ्य भस्म 0.04%
सत्व  पुदीना (Mentha Piperita) 0.015%
बैन्ज़लकोलियम क्लोराइड (Benzalkonium Chloride) 0.01%
शुद्धिकृत जल (aqua) 10 मिली

आइसोन्यूरॉन कैप्सूल के घटक द्रव्य

औषधि मात्रा
यष्टिमधु (Licorice – Glycyrrhiza Glabra) 60 mg
वच (Vacha – Acorus Calamus) 60 mg
जटामांसी (Spikenard – Nardostachys Jatamansi) 60 mg
अश्वगंधा (Indian Ginseng – Withania Somnifera) 60 mg
शंखपुष्पी (Shankhapushpi – Convolvulus Pluricaulis) 60 mg

लाभ एवं औषधीय प्रयोग (Benefits & Uses)

आइसोटीन गोल्ड (Isotine Gold) का प्रयोग निम्न रोगों में लाभदायक है:-

  • नजर में सुधार के लिए इसोटीन गोल्ड बहुत ही फायदेमंद है यह नजर दोष से बचाता है नज़र की रोशनी को भी बढ़ाता हैं।
  • आइसोटीन गोल्ड कंप्यूटर विजन सिंड्रोम के उपचार लिये बहुत ही लाभकारी है। ( कंप्यूटर विजन सिंड्रोम एक बहुत ही खतरनाक बीमारी हैं जो ज़्यदातर अधिक कंप्यूटर का इस्तेमाल करने वालों को होती हैं सिर दर्द, गर्दन दर्द, आंख थकान, आंखों में लाली, शुष्क आँखें, आँखों में दर्द , डबल दृष्टि, आँखों में जलन आदि इसके मुख्य लक्षणहैं )
  • अपरिपक्व मोतियाबिंद के इलाज के लिए आइसोटीन गोल्ड बहुत की लाभकारी हैं। आइसोटीन गोल्ड मोतियाबिंद के उपचार और बचाव के लिए फायदेमंद है।
  • नजदीक दृष्टि दोष को कम करने बहुत उपयोगी है।
  • दूरदृष्टि दोष को खत्म करें।
  • आइसोटीन गोल्ड मधुमेह रेटिनोपैथी के उपचार के लिए बहुत फायदेमंद।
  • रंग-बोध (Colour Blindness) की अक्षमता को ठीक करें।
  • कमजोर नजर को बढ़ाएं।
  • रेटिनाइटिस पिगमेंटोसा रोग को ठीक करें।

निम्न कारणों की वजह से होती है दृष्टि हानि:

  • मोतियाबिंद के कारण
  • नजदीक बैठकर टीवी देखने से
  • लगातार वेल्डिंग देखने से
  • इलेक्ट्रिक प्रकाश सीधा आँखों में पड़ने के कारण
  • लगातार सूर्य ग्रहण को देखने से
  • सांप के काटने के कारण
  • लेसिक लेजर या लेजर ऑपरेशन के कारण

आइसोटीन गोल्ड (Isotine Gold) इन सब में लाभ करती है। आइसोटीन गोल्ड नज़र को तेज करने और कम हुई दृष्टि को ठीक करने के लिए बहुत ही उपयोगी हैं।

कंप्यूटर विजन सिंड्रोम (Computer vision syndrome)

कंप्यूटर विजन सिंड्रोम बीमारी को कम करने में आइसोटीन गोल्ड प्रभावशाली है। अधिक कंप्यूटर का इस्तेमाल करने वाले लोग अपनी कम हो रही आंखों की दृष्टि और आँखों में होने वाले दर्द और तनाव को आइसोटीन गोल्ड उपयोग करके ठीक कर सकते हैं।

आइसोन्यूरॉन कैप्सूल मुख्य लाभ

  • कंप्यूटर विज़न सिंड्रोम को ठीक करने के लिये आइसोन्यूरॉन कैप्सूल बहुत ही फायदेमंद हैं।
  • यह मानसिक और आँखों की थकान को कम करता है और आँखों की रोशनी भी बढ़ाता है।

हमारे अनुभव के अनुसार आइसोटीन गोल्ड का उपयोग अकेले आइसोटीन आई ड्रॉप (Isotine Eye Drop) से अधिक फायदेमंद हैं। यह आइसोटीन आई ड्राप का उन्नत फार्मूला है। आइसोटीन गोल्ड पैक में आईएसओ न्यूरॉन कैप्सूल भी शामिल है जो आँखों की बिमारियों को ठीक करने के लिये बहुत उपयोगी हैं।

प्रयोग विधि एवं मात्रा

आइसोटीन गोल्ड में आइसोटीन प्लस आई ड्राप है जो आप को आँखों में 2 – 2 बूदें डालने होते है। यह दिन में ३ बार डालनी चाहिए। यदि बच्चो में इस कर इस्तेमाल करना हो तो 1 – 1 बूद दिन में ३ बार ही डाले।

इस में आइसोन्यूरॉन जो कैप्सूल है उनको रोजाना १ बार एक कैप्सूल लेना है। यही गंभीर स्थिति हो तो यह कैप्सूल दिन में २ बार भी ले सकते है।

हमें आइसोटीन गोल्ड का कब तक प्रयोग करना चाहिए?

कम से कम ६ महीने आइसोटीन गोल्ड का कोर्स करके आप अपनी आँखों की समस्यों से छुटकारा पा सकते हैं।

क्या हम नेत्र रोगों को रोकने के लिये आइसोटीन गोल्ड पैक का सेवन कर सकते हैं?

जी हाँ, आप नेत्र रोगों को रोकने आइसोटीन गोल्ड का उपयोग कर सकते हैं यह दृष्टि हानि, मोतियाबिंद इत्यादि समस्यों की रोकथाम के लिये बहुत फायदेमंद हैं। मधुमेह के मामले में मधुमेह रेटिनोपैथी के रोग का उपचार करने के लिये भी आइसोटीन गोल्ड बहुत मदद करता हैं।

नोट (Note):  कंपनी पत्रिका विवरण के अनुसार आइसोटीन गोल्ड का उपयोग करने से पहले आपकी 5 से 10% दृष्टि होनी चाहिए। परिणाम रोगी से रोगी को भिन्न हो सकते हैं। इसके परिमाण रोगी दर रोगी अलग – अलग हो सकते है सभी के लिये यह एक समान काम नहीं करता।

दुष्प्रभाव (Side Effects)

आइसोटीन गोल्ड का कोई भी नुकसान नहीं हैं। आइसोटीन गोल्ड का कोई साइड इफ़ेक्ट देखा नहीं गया।

सावधानी

यदि आइसोटीन गोल्ड में मौजूद आइसोटीन प्लस आई ड्राप से आँखों में जलन हो और यह काफी देर तक बानी रहे तो इसका प्रयोग बंद कर देना चाहिए और चिकित्सक की सलाह ले।

संदर्भ