आइसोटीन प्लस आई ड्राप (Isotine Plus Eye Drop)

आइसोटीन प्लस आई ड्राप (Isotine Plus Eye Drop) डॉ बासु की एक पेटेंट दवा है जो आंख के रोगों में बहुत फायदेमंद हैं। इसका प्रयोग मोतियाबिंद (cataract) जैसे और अन्य नेत्र रोगों के इलाज के लिए किया जाता है। मोतियाबिंद के कई रोगियों को इस से लाभ हुआ हैं। यह आँखों की दृष्टि को बढ़ाती है और अपरिपक्व मोतियाबिंद के उपचार में (बिना किसी आपरेशन के) मदद करती हैं।

घटक द्रव्य

आइसोटीन प्लस आई ड्राप (Isotine Plus Eye Drop) के घटक द्रव्यों की सूचि निम्न लिखित है:

घटक द्रव्य मात्रा (%)
पलाश (Butea Monosperma) 0.3%
चन्दन (Santalum Album) 0.3%
बहेड़ा या बिभीतकी (Terminalia Bellerica) 0.3%
आमला या आंवला (Emblica Officinalis) 0.3%
Holostemm Adakodien-Sehultes 0.3%
अपामार्ग (Achyranthes Aspera) 0.3%
पुनर्नवा (Boerhavia Diffusa) 0.3%
यशद भस्म (Jasad Bhasma) 0.06%
टंकण भस्म (Tankan Bhasma) 2.0%
फिटकिरी (Alum) 0.4%
तुथ्य भस्म 0.04%
सत्व  पुदीना (Mentha Piperita) 0.015%
बैन्ज़लकोलियम क्लोराइड (Benzalkonium Chloride) 0.01%
शुद्धिकृत जल (aqua) 10 मिली

आइसोटीन प्लस आई ड्राप का फार्मूला जड़ी बूटियों और भस्म खनिज पर आधारित है। इस फॉर्मूले पर डॉ. बासु ने कई वर्षों तक अनुसंधान किया है और अच्छे परिणाम पाए है। अब यह डॉ. बासु की पेटेंट औषधि है। हज़ारों मरीजों ने आइसोटीन प्लस आई ड्राप का इस्तेमाल करके काफी लाभ पाएं हैं। इसको लोग पिछले कई वर्षों से इस्तेमाल कर रहे हैं।

औषधीय कर्म (Medicinal Actions)

  • दृष्टि वर्धक – नजर बढ़ाने वाला
  • चक्षुष्य – आंखों के लिए फायदेमंद

चिकित्सकीय संकेत (Indications)

आइसोटीन प्लस आई ड्राप (Isotine Plus Eye Drops) निम्नलिखित रोगों में उपयोगी सिद्ध हुई है।

  1. अपरिपक्व मोतियाबिंद
  2. रंग दृष्टिहीनता (वर्णांधता) (Colour Blindness)
  3. रेटिनाइटिस पिगमेंटोसा (Retinitis Pigmentosa)
  4. मधुमेह संबंधी रेटिनोपैथी (Diabetic Retinopathy)
  5. चश्मा हटाने के लिए
  6. ग्लूकोमा  (Glaucoma)
  7. मंददृष्टि
  8. निकट दृष्टि दोष (myopia)
  9. दीर्घ दृष्टि दोष (Hypermetropia)
  10. उम्र से सम्बंदित नजर कम होना
  11. एंटीबायोटिक दवाइयों के ज्यादा इस्तेमाल से नजर कम होना
  12. लेसिक आपरेशन के बाद  नजर उबरना
  13. अधिक कंप्यूटर पर काम करने से नजर कमजोर होना

लाभ एवं औषधीय प्रयोग (Benefits & Uses)

आइसोटीन प्लस आई ड्राप (Isotine Plus Eye Drops) आँखों से संबंधित हर तरह के रोग के लिए फायदेमंद है। इसका इस्तेमाल से अपरिपक्व मोतियाबिंद में लाभ होता है। यदि इस कई प्रयोग मोतियाबिंद के आपरेशन के बाद किया जाए तो नजर में वृद्धि होती है।

चश्मा हटाने के लिए इस कर अत्याधिक प्रयोग किया जा रहा है और अच्छे परिणाम भी मिल रहे है। कई लोगों को इस से फायदा हुआ है।

आइसोटीन प्लस आई ड्राप का फार्मूला आइसोटीन आई ड्रॉप्स से बेहतर है।

सामान्य लोग भी इसका प्रयोग कर सकते है क्योंकि यह एक आयुर्वेदिक टॉनिक है जो आँखों की दृष्टि को ठीक रखने में लाभदायक है।

कंप्यूटर पर अधिक काम करने से नजर कमजोर हो या आँखों में तनाव महसूस हो, तो भी यह हितकारी है। इस से आँखों का तनाव दूर होता है और आँखों की नजर सुधरती है।

प्रयोग विधि एवं मात्रा

आँखों में आइसोटीन प्लस आई ड्राप डालने से पहले अपने हाथों को अच्छे से धो लें और साफ़ कर लें। अब दोनों आँखों में 2 – 2 बूदें आइसोटीन प्लस आई ड्राप की डाल कर 3 – 5 मिन्ट तक लेटे रहे। आँखें हलके से बंद रखे।

यदि बच्चो में इस कर प्रयोग करना हो तो 1 – 1 बूद ही डाले।

दुष्प्रभाव (Side Effects)

आइसोटीन प्लस आई ड्राप (Isotine Plus Eye Drops) का कोई साइड इफ़ेक्ट देखा नहीं गया।

सावधानी

अगर आइसोटीन प्लस आई ड्राप को आँखों में डालने से आपको जलन बनी रहे तो इसको इसका इस्तेमाल बंद कर दे और फिर चिकित्सक के परामर्श अनुसार ही इसका इस्तेमाल करें।

संदर्भ


संबंधित पोस्ट

Comments are closed.